Akbar birbal story in hindi akbar birbal ki moral kahani, बीरबल की नयी कहानी

Akbar birbal story in hindi akbar birbal ki moral kahani

Akbar birbal story in hindi, बीरबल की नयी कहानी, अकबर बीरबल की खोज कर रहे थे उन्हें लग रहा था कि बीरबल यहां पर नहीं आये है एक सैनिक आता और कहता है की  बीरबल जी यहां पर नहीं है वह किसी काम से  गांव की ओर गए हुए हैं जब akbar को यह पता चला तो सोच में पड़ जाते है

Akbar birbal story in hindi akbar birbal ki moral kahani : बीरबल की नयी कहानी 

Akbar birbal story in hindi

Akbar birbal story in hindi

Because वह नहीं जानते थे कि अकबर किसी गांव में किस काम से गए हैं वह जानना चाहते थे कि birbal को क्या काम है but कोई भी नहीं जानता था कि बीरबल किस काम से उस गांव में गए हैं अकबर को चिंता हो रही थी because वह समझ नहीं पा रहे थे कि birbal को क्या काम हो सकता है इसलिए akbar को रात भर नींद नहीं आई वह birbal का इंतजार कर रहे थे but बीरबल जी अभी तक नहीं आए थे akbar को यह भी लग रहा था कि बीरबल जी उन्हें बता कर जाते थे

 

but इस बार ऐसा कैसे हो गया कि वह बिना बताए ही किसी काम से बाहर चले गए हैं जब birbal जी आये तो पूछा की तुम किस काम से उस गांव में गए थे वह गांव तो काफी दूर हुआ है birbal ने कहा कि मुझे काम था शायद कोई मेरी मदद लेना चाहता था इसलिए उन्होंने मुझे बुलाया था उनकी तबीयत खराब थी इसलिए मुझे जाना पड़ा अकबर कहते हैं कि ऐसी क्या बात है तुम मुझसे क्या सकते हो birbal ने कहा कि उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है

 

कुछ दिन पहले की बात है उनके घर में चोरी हो गई है घर पर नहीं थे जब घर पर आए तो सब कुछ जा चुका था उन्हें बिल्कुल भी पता नहीं था कि चोरी किसने की है but अब उनके पास कुछ भी नहीं है शायद में मेरी मदद लेना चाहते हैं akbar कहते हैं कि उनकी मदद करना है जरूरी हो गया है अगर तुम मेरी मदद चाहते हो तो कह सकते हो तो birbal कहते कि मुझे सेनापति की जरूरत होगी जिसकी वजह से वह चोर को पकड़ सकते हैं

 

अकबर कहते है की ठीक है तुम सेनापति को अपने साथ में ले जाओ और इस बारे में पता करो akbar ने कहा कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं हो सकता कि कोई भी चोर यहां पर चोरी करता है और हमें पता ना चले इसलिए उसे सजा देने का हक मेरा ही है तो लेकर आओ तो हम इस बारे में बात करेंगे उसके बाद भी birbal सेनापति को लेकर उसी गांव में रहते हैं और चोर की तलाश करते हैं उन्हें लगता है कि यह चोर कोई बाहर से नहीं आया बल्कि गांव में रहने वाला है birbal ने चोर का पता लगाना चाहते थे इसलिए खोजबीन शुरू कर दी थी

 

birbal को खोजबीन करते 2 दिन बीते थे तभी पता चल गया कि चोर कौन है birbal चोर को पकड़ते हैं यह साबित करना था कि यह चोरी उसने कैसी की थी अभी बीरबल जी उसी के पास आते हैं और कहते हैं कि तुमने उस जगह पर चोरी कैसे की चोर कहना है कि जब वह घर पर नहीं थे तभी उस घर में सारा सामान लेकर चला गया यह समय उस वक्त है जब रात हो चुकी थी कोई भी बाहर नहीं था इस तरह akbar को सब कुछ पता चल चुका था सेनापति ने सब कुछ बता दिया था

Akbar birbal story in hindi akbar birbal ki moral kahani

birbal की वजह से यह चोर पकड़ा गया था वह परिवार वाले खुश थे क्योंकि उनका सामान मिल गया था और akbar भी इस बात से खुश थे कि चोर पकड़ा गया है क्योंकि अगर चोर नहीं पकड़ा जाता तो इससे जनता यह सोचने लगती कि शायद राजा इस बारे में कुछ नहीं करते हैं उसके बाद birbal को इनाम दिया जाता है और birbal लेकर घर चले जाते हैं because वे जानते हैं कि अगर अपने हिसाब से ही फैसला देंगे चोर को सजा सुनाई जाती है और अकबर को लगता कि जब तक बीरबल है तब तक कुछ नहीं हो सकता अगर आपको यह अकबर और बीरबल की कहानी (Akbar birbal story in hindi) पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Read More Hindi story :-

राजकुमार और परियों की कहानी

राजकुमारी और बच्चों की काहनी

शेर हाथी और बंदर की कहानी

सोने की चिड़िया की हिंदी कहानी

छोटे कार्टून की अच्छी कहानी

One thought on “Akbar birbal story in hindi akbar birbal ki moral kahani, बीरबल की नयी कहानी

  1. home page

    Great blog here! Also your web site loads up very fast!
    What web host are you using? Can I get your affiliate link to your host?
    I wish my site loaded up as fast

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *