Jadui kahaniya of forest tree, जंगल के जादुई पेड़ की कहानी

Jadui kahaniya of forest tree

Jadui kahaniya of forest tree, यह कहानी एक जादुई पेड़ की है, जोकि जंगल में लगा हुआ था, वह पेड़ बहुत समय से वही पर था, मगर कोई भी गांव वाला इस बात को नहीं जानता था, वह jadui tree बहुत कुछ कर सकता था, but जब उसका किसी को ज्ञान नहीं है, तो वह कुछ नहीं कर सकता था, एक दिन गांव से दो लोग जंगल में सुखी लकड़ी को लेने आये थे, but कही भी सुखी लकड़ी नज़र नहीं आ रही थी इसका मुख्य कारण यही था, की जंगल में रात भर बारिश होती रही थी, वह दोनों बहुत परेशान थे,

Jadui kahaniya of forest tree : जंगल के जादुई पेड़ की कहानी 

Jadui kahaniya of forest tree

Jadui kahaniya of forest tree

अगर आज सुखी लकड़ी नहीं मिली तो क्या होगा, आज खाना नहीं बन पायेगा, वह दोनों इस बात को जानते थे, but कुछ नहीं कर सकते थे, वह जंगल में सभी जगह पर सुखी लकड़ी की तलाश कर रहे थे, उनकी तलाश अभी भी जारी थी, की अचानक फिर से बारिश शुरू हो गयी है, अब क्या होगा, इस बात को कोई नहीं जानता था वह जंगल में हो रही बारिश से बचने के लिए एक पेड़ के पास जाते है वह इस बात को नहीं जानते है की यह jadui tree है, because उन्होंने कभी भी ऐसा नहीं देखा था,

 

वह दोनों बारिश से बचने के लिए jadui tree के नीचे खड़े थे, but उन्हें नहीं पता था की यह कोई जादुई पेड़ है, वह दोनों यही सोचते है की हमे आज बारिश के कारन सुखी लकड़ी नहीं मिल पाएगी,दो दिन से बारिश हो रही है, कुछ भी समझ नहीं आ रहा था, तभी उनके सामने सुखी लकड़ी आती है, यह देखकर दोनों डर जाते है, because ऐसा तो कभी भी नहीं हुआ था, यह सुखी लकड़ी किस जगह से आयी है, वह उस jadui tree की और देखते है, but कुछ समझ नहीं आता है,

 

वह इस बात से खुश थे की उन्हें लकड़ी तो मिल गयी थी but क्या किया जा सकता है अब उन्हें यह से चलना होगा तभी दुसरा आदमी कहता है, की यह सुखी लकड़ी आयी कहा से है, वह दोनों सोचते है उन्हें उस पेड़ पर शक होता है कही यह कोई जादुई पेड़ तो नहीं है, because जब से हम यहां पर आये है, तभी से ऐसा हुआ था, वह jadui tree को देखकर कहते है की यह बारिश रुक जानी चाहिए, बारिश रुक जाती हैं, यह देखर अब दोनों समझ गए थे, की यह सब कुछ पेड़ कर रहा है, अब वह कहते है की हमे अच्छा अच्छा भोजन लेकर दो, पेड़ उन्हें भोजन देता है

 

अब वह खुश हो जाते है, because यह कोई साधारण पेड़ नहीं है, बल्कि कोई जादुई पेड़ है, इस बार वह फिर से कुछ मांगते है, but कुछ नहीं आता है, यह दोनों सोचते है की यह क्या हुआ है, यह jadui tree काम नहीं कर रहा है, अब पेड़ की बारी थी, वह पेड़ कहता है की मेने तुम्हे तीन वरदान दिए है वह मेने पूरे किये है, अब तुम्हे मेरी जड़ के लिए पानी लाना है अगर तुम यह नहीं करते तो तुम्हे सजा मिल सकती है यह सुनकर दोनों jadui tree से डर जाते है वह दोनों कहते है की पानी किस जगह पर मिलेगा वह पेड़ कहता है की कुछ दुरी पर एक झील है वही पर मिलेगा,

 

वह पेड़ उन्हें एक बर्तन देता है, अगर तुम दोनों भागते हो तो तुम्हे सजा मिल सकती है वह दोनों बर्तन लेकर झील के किनारे पर जाते है, अब वह दोनों सोचते है की हमे यह से भाग जाना चाहिए, वह दोनों भाग जाते है, but कुछ दुरी पर जाकर गायब हो जाते है जब वह देखते है तो वह jadui tree के पास होते है jadui tree कहता है की मेने तुमसे पहले ही कहा था, की भागने की जरूरत नहीं है, वह दोनों कहते है की हमे कब तक काम करना है, वह जादुई पेड़ कहता है की तुम्हे मुझे तब तक पानी देना होगा जब तक में चाहता हु,

Jadui kahaniya of forest tree

यह सुनकर दोनों डर जाते है वह उसे पानी देते है इस काम में उन्हें रत हो जाती है अब वह समझ जाते है की यह jadui tree से मदद मांग कर हमे बहुत परेशानी हुई है अब हमे समझ आ गया है की हमे कभी भी किसी से मदद मांगने से पहले सोचना होगा, अगर आपको यह jadui tree की कहानी पसंद आयी है तो आगे भी शेयर जरूर करे  

Read More Hindi story :-

जानवरों की सभा की हिंदी कहानी

मोटू पतलू और सपने की कहानी 

राजकुमारी की नयी कहानी 

राजकुमार और परियों की कहानी

राजकुमारी और बच्चों की काहनी

शेर हाथी और बंदर की कहानी

सोने की चिड़िया की हिंदी कहानी

छोटे कार्टून की अच्छी कहानी

बीरबल की नयी कहानी

दो आदमी की पंचतंत्र कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *